गांव से शहर में दूध सप्लाई का काम कैसे करें।How to do the work of milk supply from village to city?

 

 

गांव में केवल १०००० रुपयों से कम में एक छोटा बिजनेस (धंधा) कैसे स्टार्ट करें?

गांव से शहर में दूध सप्लाई का काम कैसे करें।How to do the work of milk supply from village to city?

 

 दूध सप्लाई का धंधा। milk supply business

आप गांव में दूध सप्लाई का धंधा आराम से और आसानी से शुरू कर सकते हैं इसमें आपको ज्यादा खर्च की जरूरत नहीं पड़ता है आप बहुत ही कम पैसे इन्वेस्ट करके ज्यादा से ज्यादा प्रॉफिट आप कमा सकते हैं दूध एक ऐसा प्रोडक्ट है जिसका इस्तेमाल विभिन्न प्रकार के मिठाइयां पकवान दवा में यूज होता है, आज आपको पता है दूध का दाम दिन प्रतिदिन बढ़ते ही जा रहा है इसका कारण है कि दूध का डिमांड बढ़ते ही जा रहा है।

 

mikl business
Milk Farming

 

आप यह व्यवसाय अभी शुरू कर सकते हैं:-

Content

1. दूध

2. दूध सप्लाई के लिए बर्तन

3.दूध सप्लाई के लिए रजिस्ट्रेशन

4. दूध लेने का स्रोत

i.दूध डेयरी

ii. छोटे किसान

5. दूध लेने वाले ग्राहक

i. घर पर 

ii.दुकानों और रेस्टोरेंट्स

iii. होटल

6.दूध रोजगार को बढ़ावा देने के लिए सरकारी योजना

7.रोजगार की संभावना

8. कुल कमाई

 

दूध का उपयोग विभिन्न प्रकार के पकवान मिठाई और सुखी मिठाई बनाने में उपयोग में लिया जा रहा है, यह अपने रोजमर्रा उपयोग में आने वाली चीज है।

 दूध 

दूध एक  सफेद रंग का तरल पदार्थ है जिसमें सभी प्रकार के विटामिन पाए जाते हैं यह सभी पोषक तत्वों से परिपूर्ण होता है इसमें सभी विटामिंस सभी खनिज लॉर्ड पर्याप्त मात्रा में पाया जाता है यह मानव शरीर के लिए या किसी भी जीव के लिए जो दूध का सेवन करते हैं एक वरदान की तरह सिद्ध होता है दूध में वह ताकत होती है जिससे हमको तमाम बीमारियों से लड़ने के लिए तैयार रखता है
 
दूध हमारे हड्डियों को मजबूती प्रदान करता है दूध में कैल्शियम और फास्फोरस की मात्रा बहुत ज्यादा होती है जो हमारे हड्डी के लिए काफी लाभदायक होती है इसलिए सलाह दिया जाता है कि आप रोजाना एक गिलास दूध का सेवन जरूर करें इससे आप स्वस्थ चुस्त-दुरुस्त और मजबूत रहेंगे
 
  

 दूध सप्लाई के लिए बर्तन। milk supply pots

स्टील मिल्क कैन -: आपको दूध का बिजनेस शुरू करने के लिए सबसे पहले आप अपने ग्राहक को दूध पहुंचाने के लिए बर्तन की जरूरत है उसको आप खरीद सकते हैं जोकि 5 लीटर से लेकर 20 लीटर तक आराम से आप साइकिल पर या मोटरसाइकिल पर रखकर ग्राहक के मांग के हिसाब से पहुंचा सकते हैं अगर आपके पास यह दूध का कैन नहीं है तो आपको खरीद लेना चाहिए जोकि काफी कम रेट में आपको मार्केट (बाजार) में आसानी से मिल जाएगा और आप ले सकते हैं आप जो अपना धंधा शुरू करें उस समय अब छोटा कैन 20 लीटर के आसपास खरीदें ताकि बाद में जैसे ही आप के ग्राहक बढ़ना शुरू होंगे आप धीरे-धीरे दूध के बर्तन को बढ़ाना शुरू कर दें यह बात हो गया कि आप को दूध किस में ले जाना है दूसरा और चाहिए आपको जो बर्तन वह है लीटर वाली बर्तन होती है जो 1/2 लीटर,1, 2 ,4 लीटर आदि
साथ में जैसे ही आपका बिजनेस आगे बढ़ने लगे आपको दूध में पानी का मात्र मापने के लिए एक यंत्र आता है जिसको लैक्टोमीटर बोलते हैं इसको भी ले लेना चाहिए ताकि ग्राहक का आपके ऊपर विश्वास ज्यादा हो जाएगा और आपका धंधा अच्छे से चलेगा, अब ध्यान रखें अब जो भी बर्तन खरीद रहे हैं उस पर आई एस आई मार्क का अंकित हो इसका मतलब यह होता है की इंडियन स्टैंडर्ड इंस्टिट्यूट यह भारत गवर्नमेंट की तरफ से वेरीफाइड होता है और यह सभी मानकों को पूरा करता है जोकि खाद्य विभाग के अंदर आता है
 

दूध सप्लाई के लिए रजिस्ट्रेशन।Registration for milk supply

 

अब जैसे ही आपका धंधा आगे बढ़ने लगा तो अब आपको चाहिए कि आपको अपना अपने नाम से रजिस्ट्रेशन करा देना चाहिए वह रजिस्ट्रेशन कराने के लिए आपको एफ एस एस ए आई के साइट पर जाकर मात्र ₹100 आपको दे कर अप रजिस्ट्रेशन करा सकते हैं

यह रजिस्ट्रेशन 1 साल से लेकर 5 साल तक के लिए होता है एक बार आप का रजिस्ट्रेशन हो जाने के बाद आपको हर साल में एक बार रिन्यूअल कराना पड़ता है अगर आप रिन्यूअल नहीं कराते हैं तो आपको पर डे के हिसाब से एफ एस एस ए आई आपके ऊपर प्लांटी लगाएगी और आपको देना पड़ेगा साथ में ही आपको आपके बिजनेस का लाइसेंस भी निरस्त कर सकती है

एफ एस एस ए आई का मतलब होता है "फूड सेफ्टी एंड स्टैंडर्ड अथॉरिटी ऑफ इंडिया" इसके तहत आपका कोई भी बिजनेस जो खाने पीने से संबंधित है यहां पर आपको रजिस्ट्रेशन कराना पड़ता है।

एक बात आप ध्यान रखें अगर आपका बिजनेस शुरुआती अवस्था में और आप अभी आप बहुत छोटे लोगों से शुरुआत की हैं तो आपको लाइसेंस लेने की जरूरत नहीं पड़ती है जैसे ही आपका बिजनेस आगे बढ़े उसके हिसाब से आपको लेना पड़ता है।

 दूध लेने का स्रोतsource of milk

जवाब दूध के लिए बर्तन उसको नापने के लिए उसके ऊपर और और अगर आप बड़े स्तर हैं या बड़े लेवल पर आप दूध डेयरी खोलते हैं तो उसके लिए सरकार से रजिस्ट्रेशन और लाइसेंस आपने ले लिया है तो अब आगे का काम आप कर सकते हैं अगर आप शुरुआत कर रहे हैं तो आप लाइसेंस को छोड़कर बाकी सब काम आपको करना पड़ेगा इसके लिए आपको अब जरूरत पड़ेगी दूध की अब दूध आपको कहां से लेना है वह आपके ऊपर डिपेंड करता है यहां पर हम 2 लेवल में आपको समझा रहे हैं किस तरह से आपको दूध आसानी से मिल सकता है और आप अपना बिजनेस को आगे बढ़ा सकते हैं
 

i.दूध डेयरी  

अब आपको अपना बिजनेस चालू करना है इसके लिए आपको दूध के लिए दूध डेरी से संपर्क कर सकते हैं और वहां पर आप कुछ रियायत दर पर दूध लेकर आप छोटे-मोटे दुकानों पर घरों पर ले जाकर दे कर आप अपना इनकम बना सकते हैं अगर आपके पास कोई गाय-भैंस नहीं है और कोई दूसरा ऑप्शन नहीं है तो आपको यह ऑप्शन ट्राई करना चाहिए, कि आपको डेरी से दूध लेकर उसको ग्राहक पहुंचाने का कोशिश करना चाहिए, जिसे धीरे-धीरे आपकी जान पहचान बढ़ेगी और आपका बिजनेस आगे बढ़ेगा
 

 ii. छोटे किसान 

यह विकल्प सबसे अच्छा है, कि आप गांव से छोटे किसानों से आप दूध लेकर शहर में ले जाकर डेरी वालों को देकर आप अच्छा इनकम बना सकते हैं इसके लिए आपको छोटे किसानों से संपर्क करके उनका दूध अच्छे दामों पर खरीद के और शहर में ले जाकर या तो आप दूध डेयरी को दे सकते हैं या नहीं तो शहर में होटल रेस्टोरेंट या घरों को भी लेकर दे सकते हैं जिससे आपको अच्छा खासा पैसा मिल सकता है, इस बात का ध्यान रखें कि आप जब छोटे ग्राहक से मतलब किसान से जो जिनके पास 1-2 गाय ,भैंस है जो दूध देती हैं उनसे जेएनयू दाम पर दूध खरीद कर आप शहर में ले जाकर दे सकते हैं जिससे आपका बिजनेस आगे की तरफ बढ़ते जाएगा और आपको फायदा मिलता जाएगा और आप यह विचार तब तक अपना कर रखें जब तक आपका कुछ अच्छा खासा इनकम ना हो जाए, जब अच्छा खासा इनकम हो जाए तो आप बड़ा बिजनेस शुरू कर सकते हैं वह भी दूध से संबंधित क्योंकि इतना काम करने के बाद आपको इतना अनुभव हो जाएगा कि आपको आगे कैसे काम करना है
 

दूध लेने वाले ग्राहकmilk customer

अब आपके पास दूध का व्यवस्था हो गया है आपने डेरी से या छोटे किसानों से आपने दूध खरीद लिया है अब दिक्कत है आपको दूध कहां पर बेचेंगे या आपके दूध को कौन लेगा ? तो इसके लिए मैं बता रहा हूं आप किसको-किसको अपना दूध बेच सकते हैं, और अपना इनकम बना सकते हैं वह भी बहुत स्मार्ट तरीके से कमा सकते हैं-

i. घर पर (होम डिलीवरी)

जिस दूध को आप ने डेरी से छोटे किसानों से इकट्ठा किया है उस दूध को आप शहर में ले जाकर होम डिलीवरी कर सकते हैं, घरों को ले जाकर अब दे सकते हैं शुरू में तो आपको थोड़ा सा दिक्कत होगा क्योंकि आपके फिक्स्ड कस्टमर नहीं है, तो इसके लिए आपको थोड़ा सा पूछना पड़ेगा कि दूध किसको चाहिए और किसको नहीं चाहिए, तो इसे आपको नए-नए ग्राहक मिलते जाएंगे और आपका दूध का धंधा चल पड़ेगा और आप सुबह और शाम उनके घरों को दूध लेकर पहुंचा सकते हैं

 

ii.दुकानों और रेस्टोरेंट्स

दूध को आप रेस्टोरेंट या दुकान पर भी आप दे सकते हैं जहां पर दूध का जरूरत है आप मार्केट में घूम कर सभी दुकानों पर जहां पर दूध का खपत है वहां पर आप अपना दो दे सकते हैं और महीने का पैसा आप उठा सकते हैं आपका एक बार ग्राहक फिक्स हो जाने पर आप आराम से गांव से दूध लेकर रेस्टोरेंट्स दुकानों पर दे सकते हैं जिस रेस्टोरेंट और दुकान पर चाय का खपत ज्यादा होता है वहां पर दूध का भी डिमांड ज्यादा होता है इसलिए आप उस दुकान को देखें जहां पर चाय का डिमांड ज्यादा है इससे आपका दूध खूब बिकेगा और आपको इनकम खूब होगा

iii. होटल

     गांव से लाया हुआ दूध आप शहर में बड़े-बड़े होटलों में दे सकते हैंक्योंकि होटलों में दूध का डिमांड बहुत ज्यादा होता है, और दूध का खपत बहुत ज्यादा होता है क्योंकि होटलों में मिठाइयां विभिन्न प्रकार के पकवान दूध कॉफी बहुतायत मात्रा में बनाया जाता है और यहां पर ग्राहक भी बहुत ही दूर दराज से आते हैं जिसके हिसाब से उनके पसंद का खाना, मिठाइयां,  दूध, कॉफी सब बनाया जाता है जिससे दूध की खूब डिमांड होती है तो आप बड़े होटलों से संपर्क बनाकर आप अपना दूध अच्छे दामों में उनको दे सकते हैं
 

दूध रोजगार को बढ़ावा देने के लिए सरकारी योजनाGovernment schemes to promote milk employment

दूध रोजगार को बढ़ावा देने के लिए भारत सरकार की तरफ से कई प्रकार की योजनाओं का शुरुआत किया गया है यह योजनाएं डेरी एंटरप्रेन्योरशिप डेवलपमेंट स्कीम जो कि भारत सरकार के अंदर आती है इसके तहत डेरी से संबंधित और डेयरी को प्रोत्साहित करने के लिए भारत सरकार डेयरी मालिकों को अच्छे किस्म की गाय-भैंस उपलब्ध करवाते हैं, साथ ही हर गाय भैंस के बीमा भी होता है, अगर कोई गाय भैंस मर जाती है, तो उसका खर्च सरकार उठाता है, और दूसरे गाय भैंस खरीदने के लिए भारत सरकार डेयरी फार्म मालिक को ₹500000 तक का अनुदान प्रदान करता है और यदि कोई डेरी खोलना चाहता है, तो उसमें भी सरकार मदद करती है

रोजगार की संभावना 

दूध के बिजनेस में रोजगार का अपार संभावनाएं हैं क्योंकि यह एक ऐसा बिजनेस है कि इसमें दूध की सबको जरूरत पड़ता है चाहे वह छोटा बच्चा हो या बड़े, सब को दूध की जरूरत पड़ती है इसलिए यह रोजगार का एक बहुत बड़ा माध्यम हैं आप इसमें बहुत थोड़े से पैसे इन्वेस्ट करके आप अच्छा खासा अपना बिजनेस खड़ा कर सकते हैं। और उससे अच्छी खासी कमाई भी कर सकते हैं जो लोग बेरोजगार हैं वह लोग इस धंधे में अपना भाग्य आजमा सकते हैं और वह सफल भी हो सकते हैं दूध का बिजनेस ऐसा बिजनेस है जो एक दूसरे से सब कोई जुड़ा होता है वह गांव से लेकर शहर तक इससे एक दूसरे को रोजगार आसानी से मिल जाता है, अगर एक दूध बेचते हैं तो उसको खरीद कर दूसरे लोग उस दूध को दूसरे रूप में बदल कर बेचते हैं, इससे रोजगार की संभावना और बढ़ती जाती है और यह ऐसा बिजनेस है, कि आप बहुत आसानी से कर सकते हैं।

कुल कमाईTotal Income

बात जब कमाई की आती है तो आपको मैं बता दूं दूध के बिजनेस में बहुत ज्यादा इनकम है क्योंकि आप देख सकते हो आप एक उदाहरण ले लो आपके यहां कोई दूध वाला आता है आप उसको कितने रुपए पे करते हो, पर लीटर के हिसाब से नॉर्मल 50 से ₹60 कहीं-कहीं पर तो 80 से ₹90 है तो यह गांव से या डेरी से 30 से ₹40 पर लीटर के हिसाब से खरीदते हैं और आपको, हमको या शहर में होटलों में रेस्टोरेंट में दुकानों पर हमसे 70 से 80 रूपों में दूध को बेचते हैं, और महीने का अच्छा खासा पैसा कमा लेते हैं, मोटा मोटी देखा जाए तो यह महीने का 40 से ₹50000 आराम से कमा लेते हैं वह भी मात्र 3 से 4 घंटे काम करके तो यह बिजनेस कमाई के हिसाब से बहुत ही अच्छा है और काफी लंबे समय तक चलने वाला है, क्योंकि दूध का डिमांड कभी घटेगा नहीं हमेशा बढ़ते ही रहता है इसका उपयोग हर दिन बढ़ते ही जा रहा है चाहे वह शादी हो, कोई प्रोग्राम हो दूध की जरूरत सब को पढ़ती है तो इस बिजनेस में आप आराम से आप अपना भविष्य बना सकते हैं और एक अच्छे लेवल का आप एक डेयरी खोल सकते हैं

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ