छोटे बच्चों को घर पर कैसे पढ़ाएं।How to teach young children at home

छोटे बच्चों को घर पर कैसे पढ़ाएं।How to teach young children at home

आज के समय में छोटे बच्चों को अपने घर पर कैसे पढ़ाएं यह बहुत बड़ी समस्या देखने को मिल रहा है क्योंकि स्कूल बंद चल रहे हैंजिससे बच्चों की पढ़ाई डिस्टर्ब हो रहा है अब बच्चों को अपने घर पर बहुत तरीकों से पढ़ा सकते हैं और इसको अपना एक प्रोफेशनल जॉब बना सकते हैं, और साथ में अच्छा खासा पैसा भी कमा सकते हैं, और आप घर पर रहकर आस-पास के बच्चों को पढ़ा कर यह काम आप आसानी से कर सकते हैं। आप निम्नलिखित तरीकों से बच्चों को आप पढ़ा सकते हैं और उनको समझ भी खूब अच्छे से आएगा।

 Content-

1. कार्टून की मदद से

2.फोटो की मदद से

3. खिलौनों से

4. बच्चों के खेलने के सामान से

5. उनके सामने टीवी प्रोजेक्टर पर

 i.वीडियो दिखाकर


                    

                

           


 

 

 

 

 

 

कार्टून की मदद सेWith the help of cartoons

आप छोटे बच्चों को कार्टून की मदद से उनको पढ़ा सकते हैं। आप किताबों में कार्टून को उनके हिसाब से  छपवा कर उनको कार्टून कि किताब दिखाकर आप उनको पढ़ा सकते हैं। और बच्चे भी काफी अच्छे से मन लगाकर पढ़ेंगे, इससे बच्चे बोर नहीं होंगे। जिससे आप उनको आराम से पढ़ा सकते हैं, कार्टून का किताब वह विभिन्न जानवरों के फल-फूल के  कार्टून का रूप होता है जिससे बच्चे आसानी से समझ सकते हैं और लंबे समय तक याद रहेगा बच्चों को कार्टून पेपर में देखना काफी  अच्छा लगता है।

 फोटो की मदद से। With the help of photo

छोटे बच्चों को रंग-बिरंगे फोटो देखना काफी पसंद आता है। और वह उस फोटो को बार-बार देखते रहते हैं, और जिससे उनके दिमाग में वह फोटो बैठ जाता है ,और वह लंबे समय तक याद रहता है। आप विभिन्न प्रकार के फोटो  को इकट्ठा करके आप एक किताब तैयार कर सकते हैं या बाजार से फोटो वाली किताब ले सकते हैं। और छोटे बच्चों को दिखाकर उनको आप पढ़ा सकते हैं, और समझा सकते हैं। 

शिक्षा
Kids Study

 

आप अपने आस-पास या अपने घर में खुद देख सकते हैं कि छोटे बच्चे को कलर फोटो वह ध्यान से देखते हैं, और बार-बार देखने का जिद करते हैं इसलिए आप जो पढ़ाने जा रहे हैं बच्चों को उसका कलर फोटो का किताब साथ में जरूर रखें। जिससे आप उस किताब का फोटो छोटे बच्चों को अब दिखा सके और उनको समझा सकें। फोटो में आपको बच्चों को ज्यादा समझाने की जरूरत नहीं पड़ती है, क्योंकि वह खुद ब खुद फोटो देखकर समझ जाते हैं, आपको तो केवल यह बताना होता है, कि यह क्या चीज है और उसको क्या बोलते हैं। तो इस तरह से आप फोटो दिखाकर छोटे बच्चों को समझा सकते हैं और पढ़ा सकते हैं।

 

 खिलौनों से। With toys

सभी बच्चों को खिलौने देखना खिलौनों से खेलना काफी पसंद आता है। और वह खिलौनों में काफी रुचि दिखाते हैं, वह खिलौनों के साथ हमेशा रहना पसंद करते हैं। क्योंकि खिलौने उनकी पसंद है वह जब भी मेले में या बाजार में जाएंगे तो वह अपनी पसंद के खिलौने खरीदने का जिद करते हैं।

आप उनके पसंद के खिलौने को लेकर आप उनको पढ़ा सकते हैं, उनको समझा सकते हैं। अब यह भी देख सकते हैं कि कौन सा बच्चा किस खिलौने में ज्यादा रुचि दिखाता है। उसके रुचि के हिसाब से खिलौनों को ले सकते हैं। और छोटे बच्चों को पढ़ा सकते हैं, और उनको समझा सकते हैं। क्योंकि इससे आपका समय काफी बचत होगा। बच्चे खिलौनों के साथ जब खेलेंगे और आप उनको बता कर रखेंगे कि यह इस चीज का खिलौना है तो उसके दिमाग में यह बात समझ में आ जाएगा, और वह दिमाग में बैठ जाएगा और आप कोशिश कीजिए कि बच्चों को ज्यादा से ज्यादा खिलौने के माध्यम से बताइए ताकि वह बोरिंग महसूस ना करें और वह खेलते हुए समय भी कुछ ना कुछ जरूर सीखें।

 

 बच्चों के खेलने के सामान सेFrom children's playthings

बच्चे जिस जगह पर खेलते हैं और वहां पर जो भी संसाधन हैं उनको खेलने के लिए उन संसाधन को ऐसा बनाएं या खरीदें कि बच्चे उनसे कुछ ना कुछ जरूर सीखें। आपको इस तरह बनाना है, कि वह चीज उनके नजर के सामने दिखे और प्रैक्टिकल तौर से उनको पता चले, कि हां यह वह चीज है आप जो भी मटेरियल आपके आसपास है। खेलने से संबंधित वह सभी ऐसे होना चाहिए के आप छोटे बच्चों को समझा सकें। आप उनसे खेलने से संबंधित कोई भी संभाल लेते हैं तो आपको कोशिश करना चाहिए कि वह सामान ऐसा हो आप बच्चों को उसके बारे में बता सके।

 

उनके सामने टीवी प्रोजेक्टर पर।  On the TV projector in front of them

आज के समय में बहुत से लोग टीवी प्रोजेक्टर का उपयोग कर रहे हैं ऐसे बच्चे काफी रोचक दिखाकर पढ़ाई में मन लगाकर देखते हैं इसके अलावा और भी साधन है पढ़ाने का बच्चों के-

शिक्षा
education video

 

i.वीडियो दिखाकरBy showing the video

छोटे बच्चों को प्रोजेक्टर पर वीडियो दिखाकर पढ़ा सकते हैं। जब आप कोई चीज पढ़ा रहे हैं, तो उसको एक वीडियो के रूप में रूपांतरित करके बच्चों को पढ़ाइए। जिससे बच्चे काफी ध्यान से  पढ़ेंगे और उनका ध्यान इधर-उधर नहीं होगा। उनका पूरा ध्यान प्रोजेक्टर के टीवी स्क्रीन पर होगा और वह पिक्चर देखकर सीख सकते हैं, और आपको जरूरत है उनकी लेवल का सामग्री वीडियो के लेबल में प्रदान कराएं। जिससे आसानी से वीडियो देखकर पढ़ सकते हैं।

 

छोटे बच्चों को पढ़ाना कोई मामूली बात नहीं है ,यह बहुत बड़ी बात है कि आप छोटे बच्चों को पढ़ा रहे हैं, और उनको आप अपना मार्गदर्शन दिखा रहे हैं छोटे बच्चों को समझाना अपनी बात मनाना बहुत बड़ी बात होती है। छोटे बच्चों में ज्यादातर जिद्द होता है जिससे वह किसी बात पर हट करते रहते हैं छोटे बच्चों को पढ़ा कर आप अपना कैरियर को नया ग्रोथ दे सकते हैं।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ